Friday, December 2, 2022
Google search engine
Homeब्रेकिंग न्यूज़वाराणसी डीएम का आदेश तमिल अतिथियों का हो भव्य स्वागत,इलेक्ट्रिक बस से...

वाराणसी डीएम का आदेश तमिल अतिथियों का हो भव्य स्वागत,इलेक्ट्रिक बस से करेंगे शहर की भ्रमण

वाराणसी । कमिश्नर कौशल राज शर्मा ने पर्यटन से जुड़े नाविक, ई-रिक्शा चालक, टूरिस्ट गाइड, होटल, सिविल डिफेंस से कहा कि सभी काशी-तमिल संगमम में आने वाले लोगों के स्वागत की मिसाल पेश करें। उन्होंने कहा कि यह न केवल स्वागत होगा बल्कि इसका संदेश पूरे देश में जाएगा वह उनके व्यवसाय को कई गुना बढ़ाएगा। साथ ही शहर को देव दीपावली की तरह सजाया जाएगा। सभी पर्यटक एक स्थान से दूसरे स्थान तक इलेक्ट्रिक बस से जाएंगे। अतिथियों का स्वागत पुष्प वर्षा और डमरू दल करेंगे।

तमिलनाडु से आने वाले अतिथियों के स्वागत के लिए भारतीय जनता पार्टी ने पूरी तैयारी की है। इसे लेकर पार्टी की गुरुवार को चार बैठकें सर्किट हाउस में हुई। तय किया गया कि अतिथियों का पूरे कार्यक्रम में भव्य स्वागत किया जाएगा।

भाजपा के प्रदेश सह प्रभारी सुनील ओझा ने कहा कि काशी दो पौराणिक संस्कृतियों के मिलन का गवाह बनने जा रही है। कन्नौज के सांसद सुब्रत पाठक ने कहा कि एक भारत श्रेष्ठ भारत परिकल्पना को साकार किया जाएगा। क्षेत्रीय अध्यक्ष महेश चंद श्रीवास्तव ने बताया कि सभी वार्ड से 200 कार्यकर्ता प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सभा में भाग लेंगे। बैठक में मीना चौबे, अशोक चौरसिया, हंसराज विश्वकर्मा आदि थे।

संगमम में आने वाला पहला दस्ता बनारस स्टेशन पर आएगा। दूसरा दस्ता कैंट और तीसरा ग्रुप पं. दीनदयाल उपाध्याय स्टेशन पहुंचेगा। कुल 12 समूह इन स्टेशनों पर चार-चार की संख्या में पहुंचेंगे। स्टेशन पर उनका स्वागत किया जाएगा।

आने वाले अतिथियों को काशी भ्रमण में किसी प्रकार की कोई दिक्कत न हो इसके लिए 60 गाइडों को तैयार किया जाएगा। पर्यटन विभाग की ओर से इन गाइडों को बकायदा तमिल का प्रशिक्षण दिया जाएगा। पर्यटन स्थलों को लेकर सामान्य जानकारी व आमतौर पर प्रयोग में आने वाले शब्दों की समझ पर फोकस होगा। प्रयास है कि गाइडों को तमिल की इतनी समझ हो जिसे वह कम से कम टूटी-फूटी भाषा में बोल सकें। बनारस में तमिल बोलने व समझने वाले लोगों का सहयोग लिया जाएगा। इस बारे में गाइडों को जानकारी दी जा रही है।

संगमम का मुख्य आयोजन बीएचयू के एम्फी थिएटर हो रहा है। प्रधानमंत्री के 19 नवंबर को उद्घाटन करेंगे। इसके बाद 20 नवंबर कोई भी आम नागरिक वहां चलने वाली प्रदर्शनी और शाम को होने वाले कार्यक्रमों को देखने के लिए जा सकता है। सबके लिए आयोजन स्थल खुला रहेगा।

नगर आयुक्त प्रणय सिंह ने मातहतों के साथ बैठक की। शहर में विशेष सफाई, सजावट का निर्देश दिया। जलकल जीएम से कहा कि अगर कही भी सीवर ओवरफ्लो हुआ तो खैर नहीं। उन्होंने पूरी टीम के साथ कार्यक्रम स्थल का निरीक्षण किया। उधर, बिजली विभाग के एमडी शंभू कुमार ने अपने अधीनस्थों के साथ कार्यक्रम स्थल का निरीक्षण किया। बताया कि पीएम कार्यक्रम के दौरान बिजली नहीं कटेगी।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -spot_img