जौनपुर पहुंचे योगी आदित्यनाथ,उन्होंने मेडिकल कॉलेज का किया निरिक्षण

जौनपुर पहुंचे योगी आदित्यनाथ,उन्होंने मेडिकल कॉलेज का किया निरिक्षण
ख़बर को शेयर करे

जौनपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शुक्रवार को दस बजे पूर्वांचल विश्वविद्यालय के एकलव्य स्टेडियम स्थित हेलीपैड पर पहुंचे। जहां उन्हें कुलपति व प्रशासन के अधिकारियों ने बुके देकर सम्मानित किया। इसके बाद मुख्यमंत्री कार से उमानाथ सिंह स्वशासी राज्य चिकित्सा महाविद्यालय (मेडिकल कालेज) तय समय से तीन मिनट पहले पहुंचे। मेडिकल कालेज भवन से भीतर प्रवेश किया और बारी-बारी कई महत्वपूर्ण विभागों का 18 मिनट में मुआयना किया।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सबसे पहले मेडिकल कालेज भवन से अंदर प्रवेश किया तो प्रिंसिपल डॉ.शिव कुमार ने सीनियर चिकित्सकों के साथ स्वागत किया और बारी बारी उन्हें सभी विभाग प्रशासनिक भवन, ओपीडी, लैब, शिक्षण कक्ष आदि का मुआयना कराया। मुख्यमंत्री मेडिकल कालेज की व्यवस्था से कुछ असंतुष्ट दिखे और जिम्मेदार लोगों को सुधार करने के लिए चेताया। मेडिकल कालेज की व्यवस्था पर मीडिया के लोग मुख्यमंत्री से सवाल न खड़ा करें इसके लिए पहले ही उनका प्रवेश रोक दिया गया था। मेडिकल कालेज के निरीक्षण के बाद मुख्यमंत्री सीवरेज ट्रीटमेंट प्लान का निरीक्षण करने पंचहटिया के लिए निकले। मेडिकल कालेज के सामने निवास करने वाले और दुकानदारों को बाहर आने के लिए मना कर दिया गया।

मुख्यमंत्री के आगमन के दौरान पुलिस प्रशासन में आवागमन पूरी तरह से रोक दिया था। कार्यक्रम स्थल तक पहुंचने के लिए महिला लाभार्थियों को काफी दिक्कत उठानी पड़ी। दस किलोमीटर की परिधि में सड़क मार्ग ठप कर वाहनों का प्रवेश वर्जित कर दिया गया था।दर्जनों की संख्या में महिला लाभार्थी पैदल जा रहीं थीं।जहां उन्हें जगह जगह पुलिस रुकावटों का सामना करना पड़ा। जिस वजह से तय समय पर हुआ कार्यक्रम स्थल पर नहीं पहुंच सकीं।

इसे भी पढ़े   क्या रहमान ने फिल्म पर तंज कसा? मस्जिद में हिंदू की शादी का वीडियो Retweet कर लिखा-Bravo

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का हेलीकाप्टर वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय पर 9:57 बजे पर उतरते ही क्षेत्र की बिजली आपूर्ति ठप हो गई।ग्रामीण व्यवस्था को लेकर तरह तरह की चर्चा करते सुने गए। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का हेलीकॉप्टर आसमान में ही उमड़ रहा रहा था।तभी सराय ख्वाजा (देवकली) ही विद्युत उपकेंद्र से जुड़े 50 से अधिक गांव की बिजली आपूर्ति ठप हो गई। मुख्यमंत्री का आगमन और बिजली का कट जाना चर्चा का विषय बना रहा।


ख़बर को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *