बब्बर शेर,आंधी,कन्हैया,टेंपो… यूपी में एक मंच से दहाड़े राहुल गांधी और अखिलेश यादव

बब्बर शेर,आंधी,कन्हैया,टेंपो… यूपी में एक मंच से दहाड़े राहुल गांधी और अखिलेश यादव
ख़बर को शेयर करे

लखनऊ। यूपी के कन्नौज में आज विपक्ष के INDIA गठबंधन ने अपनी ताकत का प्रदर्शन किया। आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और सपा के अध्यक्ष अखिलेश यादव एक मंच से दहाड़े। राहुल गांधी ने अपनी स्पीच की शुरुआत में INDIA गठबंधन के कार्यकर्ताओं को बब्बर शेर कहा,जो अब एक साथ टीम में जाकर शिकार कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि मैं आपको लिखकर दे रहा हूं कि उत्तर प्रदेश में INDIA गठबंधन का तूफान आ रहा है। यहां पर बीजेपी की देश में सबसे बड़ी हार होने जा रही है क्योंकि देश को यूपी ही रास्ता दिखाता है।

10 साल मोदी जी ने अडानी-अंबानी का नाम नहीं लिया
राहुल ने कहा कि आपने देखा होगा कि 10 साल मोदी जी ने अडानी-अंबानी का नाम नहीं लिया मगर अब… जब कोई डर जाता है तब उन्हीं लोगों का नाम लेता है जो सोचता है कि बचा पाएंगे। इसीलिए नरेंद्र मोदी जी ने अपने दो दोस्तों का नाम ले लिया कि आकर बचाओ, INDIA गठबंधन ने घेर लिया है। मैं हार रहा हूं। इसीलिए नरेंद्र मोदी जी ने नाम लिया।

राहुल ने आगे कहा कि उनको ये भी मालूम है कि अडानी जी कौन से टेंपो में कैसे पैसा भेजते हैं। पर्सनल एक्सपीरियंस है प्रधानमंत्री जी को टेंपो वाला। अब पीएम मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और बीजेपी आपके ध्यान को भटकाने की कोशिश करेंगे। राहुल ने कहा कि इस चुनाव में एक ही मुद्दा है हिंदुस्तान का संविधान। हाथ में किताब दिखाते हुए राहुल ने कहा कि इस किताब ने हिंदुस्तान के गरीबों, पिछड़ों, दलितों, किसानों, मजदूरों, व्यापारियों को अधिकार दिया है। चाहे वोट करने का अधिकार हो, आरक्षण, जमीन, नौकरी सब हक संविधान ने ही दिए हैं। बीजेपी ने मन बना लिया है कि वे इस संविधान को रद्द करने जा रहे हैं।

इसे भी पढ़े   लुढ़क गए अडानी के शेयर,NDTV पर लग गया ब्रेक,अडानी Total पर भी लोअर सर्किट

राहुल ने ललकारते हुए कहा कि इस किताब को, बीजेपी छोड़ो दुनिया की कोई शक्ति नहीं छू सकती है क्योंकि इस किताब में हिंदुस्तान के गरीबों की आत्मा, भावनाएं, भविष्य और विकास है। राहुल ने आगे कहा कि मोदी जी 22 लोगों के लिए काम करते हैं। उन्होंने 22 लोगों का 16 लाख करोड़ रुपये कर्जा माफ किया है। 16 लाख करोड़ रुपये मतलब 24 साल का मनरेगा का पैसा मोदी जी ने 22 लोगों को दे दिया। मैं आपसे पूछना चाहता हूं कि मोदी जी ने आपका कितना पैसा माफ किया है?

अखिलेश को कहा गया,’कन्नौज का कन्हैया’
इससे पहले मंच से कहा गया कि कन्नौज लोहिया, मुलायम और शीला दीक्षित की भूमि है। अखिलेश को ‘कन्नौज का कन्हैया’ कहकर संबोधित किया गया। अखिलेश बोलने के लिए खड़े हुए तो कहा कि इसी मैदान पर मैं पहली बार आया था और उस मंच पर नेताजी से लेकर सभी वरिष्ठ नेता थे। जब मुझसे अपील करने के लिए कहा गया तो मुझे याद है कि मैंने केवल नाम लिए थे। केवल सहयोग मांगा था। इसके अलावा कुछ नहीं बोला फिर भी कन्नौज की जनता ने अच्छे वोटों से चुनाव जिताकर भेज दिया। उधर, AAP नेता संजय सिंह ने दावा किया कि अगर भाजपा गलती से जीत गई तो संविधान खत्म कर देगी।


ख़बर को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *