पहले पत्नी को मारा,फिर बच्चों को;डेडबॉडी के साथ घर में ही तीन दिन तक रहा ‘कातिल’

पहले पत्नी को मारा,फिर बच्चों को;डेडबॉडी के साथ घर में ही तीन दिन तक रहा ‘कातिल’
ख़बर को शेयर करे

लखनऊ। लखनऊ में एक 32 साल के आदमी ने अपनी पत्नी और दो छोटे बच्चों की हत्या कर दी। पुलिस को बताया गया है कि वो तीन रात तक शवों के साथ ही घर में रहा। आस-पास से दुर्गंध आने के बाद पुलिस को शक हुआ और जांच करने पर यह पता चला। पत्नी का नाम ज्योति था और उसकी उम्र 30 साल थी। पति राम लगन को शक था कि ज्योति का किसी और से अफेयर है। इस शक की वजह से उनकी अक्सर लड़ाईयां होती थीं। गुस्से में आकर राम लगन ने अपनी पत्नी को दुपट्टे से गला घोंटकर मार डाला। वो नहीं चाहता था कि उसके बच्चे पुलिस को बताएं तो उसने अपने 6 साल की बेटी पायल और 3 साल के बेटे आनंद को भी मार डाला।

पति ने पत्नी-बच्चों को मारकर बोरी में भर दिया
ये घटना लखनऊ के बिजनौर इलाके के सरवन नगर इलाके में हुई। पुलिस उपायुक्त (दक्षिण) टीएस सिंह ने बताया कि राम लगन की शादी को सात साल हो चुके थे। उसे शक था कि उसकी पत्नी का किसी और से अवैध संबंध है और वह फोन पर बात करते समय उसकी जासूसी करता था। इस वजह से अक्सर उनकी लड़ाईयां होती थीं। 28 मार्च की रात को भी उनकी लड़ाई हुई थी, जिसके बाद उसने अपनी पत्नी और बच्चों को मार डाला। मीडिया को मिली जानकारी के मुताबिक, हैरानी की बात ये है कि इस खौफनाक वारदात के बाद आरोपी उसी कमरे में रात बिताता रहा, मानो उसके बगल में उसकी पत्नी और बच्चे मरे पड़े नहीं हैं। वो अगली सुबह गया और रात को वापस आ गया।

इसे भी पढ़े   एशिया कप के लिए पाकिस्तान नहीं जाएगी टीम इंडिया,बीसीसीआई सचिव जय शाह ने दी जानकारी

पड़ोसियों को हुआ शक तो घर में जाकर देखा
ये सिलसिला तीन दिन तक चला, जब तक घर के मालिक को बदबू नहीं आई। पुलिस ने बताया कि दरवाजा बंद नहीं था और जब वो घर के अंदर गया तो उसने तीनों लाशें एक बोरे में ठूंसी हुई देखीं। क्योंकि ये इलाका काफी भीड़-भाड़ा था,राम लगन शवों को बाहर नहीं निकाल सका। उसने अपने पड़ोसियों से ये भी झूठ बोला कि उसका परिवार होली मनाने के लिए रिश्तेदार के घर गया है। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है और उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया है। लाशों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।


ख़बर को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *