विजयवाड़ा में डॉक्टर के परिवार में पांच लोगों की मौत…हत्या या आत्महत्या?

विजयवाड़ा में डॉक्टर के परिवार में पांच लोगों की मौत…हत्या या आत्महत्या?
ख़बर को शेयर करे

विजयवाड़ा। आध्रप्रदेश के विजयवाड़ा में बड़ी अनहोनी हुई है। एक ही परिवार में पांच लोगों की मौत से हड़कंप मच गया। लोकल डॉक्टर डी श्रीनिवास ने अपने घर के बाहर फांसी लगा ली। घर के अंदर उनकी पत्नी, दो बच्चों और मां की लाशें मिलीं। स्थानीय लोगों ने देखा और तुरंत पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर जांच शुरू कर दी है। पुलिस ने बताया कि कथित तौर पर आर्थिक तंगी से जूझ रहे डॉक्टर समेत एक ही परिवार के पांच सदस्य अपने घर में मृत पाए गए। विजयवाड़ा ईस्ट के डीसीपी अधिराज सिंह राणा ने बताया कि परिवार के चार सदस्यों के शरीर पर चोट के निशान पाए गए जबकि एक फांसी पर लटका मिला। उन्होंने कहा कि शवों को उन्होंने मंगलवार सुबह देखा और संदेह है कि वारदात सोमवार की रात को हुई होगी।

पुलिस को किस बात का शक?
पुलिस ने कहा कि डी श्रीनिवास (40) को फांसी पर लटका हुआ पाया गया जबकि उनकी पत्नी डी उषा रानी (38), दो नाबालिग बच्चे- लड़का और एक लड़की – और उनकी मां डी रामनम्मा (70) के गले की नसें कटी हुई पाई गईं। पुलिस इस बात की जांच कर रही है कि ऐसा तो नहीं है कि हड्डी रोग विशेषज्ञ श्रीनिवास ने पहले चारों की हत्या की और फिर आत्महत्या कर ली हो।

आर्थिक समस्याओं का सामना कर रहे थे डॉक्टर
राणा ने बताया कि वह (डॉक्टर) आर्थिक समस्याओं का सामना कर रहे थे। हाल ही में उन्होंने अपना अस्पताल बेच दिया था। हम इसका सत्यापन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि सोमवार की रात पीड़ित डॉक्टर ने अपनी कार की चाबी एक पड़ोसी को सौंप दीं और उनसे उसे अपने भाई को देने को कहा। उसने पड़ोसी को बताया कि वे पांचों लोग बाहर जा रहे हैं।

इसे भी पढ़े   काबुल में फिर से धमाका,अकबर खान मस्जिद के पास हुआ ब्लास्ट

पुलिस ने दर्ज किया केस
उन्होंने बताया कि पुलिस भारतीय दंड सहिंता (आईपीसी) की धारा 302 के तहत हत्या का मामला और दंड प्रक्रिया संहिता (सीआरपीसी) की धारा 174 के तहत आत्महत्या का मामला दर्ज कर मामले की जांच कर रही है।


ख़बर को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *