बॉयफ्रेंड को रोजाना 100 बार कॉल करती थी लड़की,फिर हुआ हैरान करने वाला खुलासा

बॉयफ्रेंड को रोजाना 100 बार कॉल करती थी लड़की,फिर हुआ हैरान करने वाला खुलासा
ख़बर को शेयर करे

नई दिल्ली। साइंस के फील्ड में हम हर दिन तरक्की कर रहे हैं। बढ़ते ज़माने के साथ बढ़ती बीमारियां भी दस्तक दे रहीं है। ऐसा ही एक अजीबो-गरीब केस दुनिया के सामने आया है। सभी ये सोच में पड़ गए कि ऐसी भी बीमारी हो सकती है? द साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट ने एक आर्टिकल छपा है , जिसमें उन्होंने एक लड़की की मानसिक स्थिति के बारे में बताया गया है। उसको लव ब्रेन नाम का एक डिसऑडर है।

क्या है ये लव ब्रेन?
लव ब्रेन एक प्रकार का बॉर्डरलाइन पर्सनैलिटी डिसऑर्डर है जिसमें व्यक्ति अपने पार्टनर पर जरूरत से ज्यादा निर्भर हो जाता है। ये अक्सर तब होता है जब ग्रसित व्यक्ति का बचपन अच्छा न बीता हो। ये भी हो सकता है कि बचपन में माता-पिता का व्यवहार पीड़ित के लिए अच्छा न हो। इन कारणों से ही ये बीमारी होती है, जिसमें पीड़ित अगर किसी के भी थोड़ा करीब जाएगा, तो वो उस पर पूरी तरह से निर्भर हो जाएगा। जाहिर सी बात है,सामने वाला शख्स इस चीज को पसंद नहीं करेगा।

लव ब्रेन से जुड़ा क्या है मामला?
18 साल की एक चीन की एक लड़की अपने प्रेमी पर इतना निर्भर थी, जिसकी सारी हदे पार हो गई। स्थानीय रिपोर्ट के अनुसार, लड़की का प्रेम संबंध उसके विश्वविद्यालय के पहले साल के दौरान शुरू हुआ। लोगों का कहना है कि वो अपने प्रेमी पर बहुत ज्यादा निर्भर हो गई और वो लगातार उसके बारे में अपडेट की मांगा करती थी। इस व्यवहार के कारण रिश्ते में काफी तनाव पैदा हो गया, जिससे प्रेमी ने उसे छोड़ने का फैसला कर लिया।

इसे भी पढ़े   व्हीलचेयर पर बैठकर आई Swiggy Delivery Girl,कस्टमर शर्मिंदा

प्रेमी के छोड़ते ही, लड़की लड़के को रोज लगभग 100 बार से ज्यादा बार फोन करने लगी। परेशान लड़के ने फोन नहीं उठाया और अपनी सुरक्षा के लिए पुलिस को फोन मिलाया। जब पुलिस लड़की के के घर पहुंची, तो वो आत्महत्या करने की धमकी देने लगी। जैसे तैसे उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां पर डॉक्टर ने लव ब्रेन (बॉर्डरलाइन पर्सनैलिटी डिसऑर्डर) के बारे में जानकारी दी।

इसकी कई और पहचान होती है जैसे चिंता, डिप्रेशन, बाई-पोलर डिसऑडर। इसमें पीड़ित को इलाज की सख्त जरूरत होती है। ये एक मेंटल डिसऑडर है, जिस पर कोई ज्यादा खुलकर बात नहीं करता लेकिन इससे जूझने वाले कई लोग हैं।


ख़बर को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *