इमरान की पार्टी आगे,फिर कैसे नवाज शरीफ बनाएंगे सरकार? जनता को बताया फॉर्मूला

इमरान की पार्टी आगे,फिर कैसे नवाज शरीफ बनाएंगे सरकार? जनता को बताया फॉर्मूला
ख़बर को शेयर करे

नई दिल्ली। आखिर वही हुआ जिसका अंदाजा था, पाकिस्तान में किसी को भी पूर्ण बहुमत मिलने के आसार नहीं हैं। इमरान खान के समर्थित उम्मीदवार भले आगे हैं लेकिन मतगणना के बीच ही नवाज शरीफ ने राष्ट्र के नाम दिए अपने संबोधन में बता दिया है कि वे पाकिस्तान में सरकार बनाने जा रहे हैं। उन्होंने बाकी दलों से गठबंधन का आह्वान करते हुए कहा कि हमें जो मैंडेट मिला है, अब हम दूसरी पार्टियों से बात कर रहे हैं और हमारा फर्ज है कि हम मिलकर बैठें और इस मुल्क को भंवर से बाहर निकालें। उन्होंने कहा कि हम दावत देते हैं सभी पार्टियों को कि वो एक साथ आएं और सरकार बनाया जाए।

असल में पाकिस्तान में मतगणना के बीच नवाज शरीफ ने कह दिया है कि वे सरकार बनाने जा रहे हैं। उन्होंने लोगों से कहा कि मैं एक दफा नही कई दफा कह चुका हूं, आपकी आंखों में एक चमक और खुशी देख रहा हूं आपकी आंखों में आंखें डालकर देख रहा हूं। उन्होंने कहा कि हम पाकिस्तान का दर्द रखते हैं अपने सीने में, यह जो मेंडेट मिला है कि हम सब मिलकर काम करें। देश के सब इंस्टिट्यूशन मिलकर अपना रोल अदा करना होगा, यह आम पाकिस्तानियों की और छोटे बच्चों की ज़िंदगी,भविष्य का सवाल है।

उन्होंने कहा कि हमने शहबाज शरीफ को बोला है कि वो सारी पार्टियों के साथ मिलकर बात करें और सरकार बनाने की दिशा में काम करें। स्थायित्व के 10 साल चाहिए पाकिस्तान को मुश्किल के भंवर से निकलने के लिए, इस समय पाकिस्तान किसी तरह की लड़ाई अफोर्ड नहीं कर सकता है। लिहाजा यह कोई लड़ाई का वक्त नहीं है। पाकिस्तान की तरफ कोई गलत नज़र से नहीं देख सकता। हमारे पास न्यूक्लियर हथियार हैं।

इसे भी पढ़े   3 साल में 25 गुणा हुआ निवेशकों का पैसा,अब मिलने वाला है ये जबरदस्त बोनस

साथ आएं और मिलकर हुकूमत बनाएं
नवाज शरीफ ने कहा आज आप परमाणु शक्ति हैं। आपकी तरफ कोई आंख उठाकर नही देख सकता है। 1990 से आज तक हमारी सरकार का रिकार्ड उठाकर देख लें, बहुत अच्छा होता हमें पूरा मैंडेट मिलता, हमारे पास मैंडेट आज नहीं है, इस चुनाव में जो पार्टी कामयाब हुई है, वो हमारे साथ आएं और मिलकर हुकूमत बनाएं। शरीफ ने कहा ये सबका पाकिस्तान है ये सिर्फ हमारा नहीं है। सबको मिलकर इस मुल्क को मुश्किलों से बाहर निकाले आपके बच्चों का सवाल है। कौम की उम्मीदों को अगले 10 साल मजबूत सरकार चाहिए, हम किसी से लड़ना नही चाहते हैं।

बता दें कि उधर अभी भी मतगणना जारी है। इमरान और नवाज की पार्टी के बीच तगड़ी टक्कर देखने को मिल रही है। हालांकि इमरान के उम्मीदवार कुछ आगे हैं। अगर बिलावल भुट्टो की पार्टी को कुछ सीटें मिल जाएंगी तो गठबंधन की सरकार बन सकती है। ऐसे में नवाज और बिलावल की पार्टी का गठबंधन हो सकता है। साथ ही इसमें अन्य पार्टियां भी शामिल हो सकती हैं। क्योंकि अभी तक सभी पार्टियों का विरोध सिर्फ इमरान खान की पार्टी से ही रहा है।


ख़बर को शेयर करे

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *