इसी गुरुवार को खुलेगा फिश मील बनाने वाली देश की सबसे बड़ी कंपनी का आईपीओ

इसी गुरुवार को खुलेगा फिश मील बनाने वाली देश की सबसे बड़ी कंपनी का आईपीओ
ख़बर को शेयर करे

नई दिल्ली। देश में मछलियों की पैदावार बढ़ रही है। इसी के साथ मछलियों का निर्यात भी बढ़ रहा है। मछली पालन से देश के लाखों मछली पालकों का व्यवसाय नई ऊचाई पर पहुंचा है। आपको पता है कि देश में मछलियों का चार या फिश मील बनाने वाली सबसे बड़ी कंपनी कौन सी है। आप नहीं जानते हैं तो हम बता रहे हैं। भारत में फिश मील बनाने वाली सबसे बड़ी कंपनी Mukka Proteins Limited है। इसका आईपीओ अगले सप्ताह ही शेयर बाजार में हिट कर रहा है।

कब शुरू होगी बिडिंग
Mukka Proteins Limited का आईपीओ गुरुवार यानी 29 फरवरी 2024 को खुल रहा है। इसमें अगले सेमवार,चार मार्च तक निवेश किया जा सकेगा। अगर आप भी आईपीओ में निवेश करना चाहते हैं तो आपके लिए ये एक बड़ा मौका हो सकता है। देश की सबसे बड़ी फिश मील कंपनी अपना 225 करोड़ रुपये का आइपीओ अगले हफ्ते लेकर आने वाली है। यह कंपनी कोस्टल कर्नाटक बेस्ड कंपनी है।

क्या है इसका प्राइस बैंड
Mukka Proteins Limited ने अपने आईपीओ के लिए एक शेयर का फेस वैल्यू एक रुपया तय किया है। इस एक रुपया फेस वैल्यू वाले एक शेयर का प्राइस बैंड 26 से 28 रुपये तय किया गया है। निवेशकों को इस आईपीओ में निवेश करने के लिए कम से कम 535 शेयरों के लिए बिड करना होगा। इससे ऊपर 535 शेयरों के गुणक में बोली लगानी होगी।

क्या करती है कंपनी
कंपनी की बात करें तो मक्का प्रोटीन देश में फिश मील और फिश ऑइल का सबसे बड़ा मैन्युफैक्चरर है। इसी के साथ कंपनी 15 से ज्यादा देशों में फिश मील सबसे बड़ा निर्यात भी करती है। मैंगलोर की कंपनी मुक्का प्रोटीन भारत में फिश प्रोटीन इंडस्ट्री की बड़ी कंपनियों में से एक है। कंपनी फिश मील, फिश ऑइल और फिश सॉल्युबल पेस्ट बनाती है,जो एक्वा फिड,पोल्ट्री फिड और पेट फूड मैन्युफैक्चरिंग का एक जरूरी सामाग्री है। कंपनी के भारत में 6 प्लांट हैं। क्रिसिल रिपोर्ट के मुताबिक,फिश मील और फिश ऑइल इंडस्ट्री के रेवेन्यू में मुक्का प्रोटीन कुल बाजार हिस्सेदारी का 45-50% का योगदान करता है। फिश मील,ऑइल और पेस्ट के लिए कंपनी की उत्पादन क्षमता सालाना 1.52 लाख मीट्रिक टन है।

इसे भी पढ़े   वाणिज्य कर विभाग की बड़ी कार्रवाई,लोहा व्यापारी के तीन ठिकानों पर मारा छापा

कंपनी की वित्तीय हालत क्या है
कंपनी की वित्तीय हालत की बात करें तो बीते तीन सालों में कंपनी की फाइनेंसियल हालत में तेज बदलाव आया है। ऑपरेशन से कंपनी का रेवेन्यू FY23 में 53 फीसदी की दर से बढ़ा है। FY22 और FY23 में कंपनी का EBITDA क्रमशः 22 फीसदी और 40 फीसदी की दर से बढ़ा। पिछले 3 सालों में कंपनी का मार्जिन भी लगातार बढ़ा है।

क्या है कंपनी का ग्रे मार्केट प्रीमियम
अभी कंपनी का आईपीओ खुलने में देरी है। लेकिन अभी से ग्रे मार्केट में इसका सिक्का चल रहा है। सोमवार की सुबह मक्का प्रोटीन्स आईपीओ के एक शेयर पर 53.57 फीसदी का प्रीमियम कोट किया जा रहा था। मतलब कि 28 रुपये के मूल्य पर 15 रुपये का प्रीमियम। ग्रे मार्केट में फिलहाल इसका शेयर 43 रुपये पर ट्रेड हो रहा है।


ख़बर को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *