Tuesday, January 31, 2023
spot_img
Homeअंतर्राष्ट्रीय 'दुर्घटनास्थल से किसी को जीवित नहीं निकाला गया', नेपाल आर्मी ने जारी...

 ‘दुर्घटनास्थल से किसी को जीवित नहीं निकाला गया’, नेपाल आर्मी ने जारी किया बयान

काठमांडू । नेपाल सेना के प्रवक्ता कृष्ण प्रसाद भंडारी ने बताया, ‘नेपाल विमान दुर्घटना में हमने दुर्घटनास्थल से किसी को जीवित नहीं निकाला है’। बता दें कि आज फिर से सर्च आपरेशन चलाया जाएगा। नेपाल सेना ने सोमवार को जानकारी देते हुए इसकी पुष्टि की कि पोखरा शहर में हुए विमान हादसे के स्थल से किसी को भी जिंदा नहीं निकाला गया।

नेपाल विमान हादसे में 68 की मौत
नेपाल के पोखरा में रविवार को एक बड़ा विमान हादसा हुआ, जिसमें पांच भारतीयों समेत 72 लोगों के मारे जाने की आशंका है। बता दें कि यति एयरलाइंस का 72 सीटर प्लेन काठमांडू से 205 किमी दूर पोखरा में क्रैश हो गया। लैंडिंग से महज 10 सेकेंड पहले विमान पहाड़ी से टकरा गया, जिसके बाद प्लेन में आग लग गई और वह खाई में गिर गया।

नेपाल के प्रधानमंत्री ने बुलाई आपात बैठक
पोखरा में 15 जनवरी को हुए विमान हादसे के बाद नेपाल के प्रधानमंत्री पुष्प कमल दहल ने मंत्रिपरिषद की आपात बैठक बुलाई है। दहल ने देश के गृह मंत्रालय, सुरक्षाकर्मियों और सभी सरकारी एजेंसियों को तत्काल बचाव और राहत अभियान चलाने का निर्देश दिया है। बता दें कि नेपाली अधिकारियों ने एक विशेष आयोग को दुर्घटना के कारणों की जांच करने का काम सौंपा है। 45 दिनों में रिपोर्ट आने की उम्मीद है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जताया शोक
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नेपाल विमान दुर्घटना के शोक संतप्त परिवारों के लिए दुख व्यक्त किया और प्रार्थना की। पीएम मोदी ने ट्वीट किया, ‘नेपाल में दुखद हवाई दुर्घटना से बहुत दुख हुआ, जिसमें भारतीय नागरिकों सहित कीमती लोगों की जान चली गई। दुख की इस घड़ी में, मेरी प्रार्थनाएं शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं।’ वहीं विदेश मंत्री एस जयशंकर ने भी घटना पर दुख जताया और पीड़ितों के प्रति संवेदना व्यक्त की। उन्होंने ट्वीट किया, ‘नेपाल के पोखरा में विमान दुर्घटना के बारे में सुनकर गहरा दुख हुआ। हमारी संवेदनाएं प्रभावित परिवारों के साथ हैं।’

हवाई हादसे में चार रूसी नागरिकों की भी मौत
नेपाल के नागरिक उड्डयन प्राधिकरण ने कहा कि 68 यात्रियों को ले जाने वाली उड़ान में पांच भारतीय, चार रूसी और एक आयरिश नागरिक शामिल हैं। बयान में कहा गया है, ‘नेपाली सेना, पुलिस बल, एयरपोर्ट रेस्क्यू और फायर फाइटिंग और नेपाल पुलिस को रेस्क्यू ऑपरेशन के बारे में सूचित किया जाएगा।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -spot_img