बनारस घराने के शास्त्रीय गायक पंडित भोला नाथ मिश्र ने आर्य महिला पीजी कॉलेज में किया राग-रागनियों का अभ्यास

ख़बर को शेयर करे

वाराणसी। सिडबी-स्पिक मैके की तरफ से छह दिनी संगीत कार्यशाला के दूसरे दिन छात्राओं को राग-रागिनियों का अभ्यास कराया गया। महात्मा काशी विद्यापीठ के मंच कला विभाग एवं आर्य महिला पीजी कॉलेज में चल रहें बनारस घराने के शास्त्रीय गायक पंडित भोला नाथ मिश्र क़ी कार्यशाला में दूसरे दिन छात्र छात्राओं को राग जौनपुरी का अभ्यास कराया गया। जिसके बोल थे

‘प्रभु के चरन कमल पर वारी,निस दिन ध्यान धरो तिहारी, जोई जोई ध्यावे सोइ फल पावे, कीजे कृपा है कृष्ण मुरारी, तत्पश्चात जय जय जय शिव शंकर कष्ट हर पाप दुःख हर’। के स्थायी और अंतरा का अभ्यास कराया। उन्होंने विद्यार्थियों को बताया कि संगीत गायन में नित्य नई नई उपज होनी चाहिए तभी आप श्रोता को अपने से जोड़ पाएंगे। कार्यशाला में तबले पर आनंद मिश्रा हारमोनियम पर शिवम मिश्रा तथा तानपुरे पर श्वेता दूबे ने संगत किया। स्वागत प्रो. संगीता घोष एवं संचालन प्रो. आकांक्षी ने किया। उक्त अवसर पर स्पिक मैके के चेयर पर्सन यूसी सेठ, पवन सिंह, आर्य महिलाकी प्राचार्य प्रो. रचना दूबे, डॉ अनामिका दीक्षित, प्रो. बृजबाला सिंह सहित छात्र छात्राएं उपस्थित रहें।


ख़बर को शेयर करे
इसे भी पढ़े   विश्वनाथ धाम लोकार्पण की पहली वर्षगांठ: वेद मंत्रों संग होगी शाम 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *