नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में आ रहे इन देशों के राष्ट्राध्यक्ष,देख लीजिए पूरी लिस्ट

नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में आ रहे इन देशों के राष्ट्राध्यक्ष,देख लीजिए पूरी लिस्ट
ख़बर को शेयर करे

नई दिल्ली। शपथ ग्रहण समारोह में भाग लेने के अलावा,आमंत्रित नेता उसी शाम राष्ट्रपति भवन में राष्ट्रपति श्रीमती द्रौ नरेंद्र मोदी शनिवार (9 जून) को भारत के प्रधानमंत्री पद की तीसरी बार शपथ लेंगे। इस अवसर पर भारत के पड़ोस और हिंद महासागर क्षेत्र के नेताओं को विशिष्ट अतिथि के रूप में आमंत्रित किया गया है। शपथ ग्रहण समारोह में भाग लेने के अलावा, आमंत्रित नेता उसी शाम राष्ट्रपति भवन में राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मू द्वारा आयोजित भोज में भी शामिल होंगे।

प्रधानमंत्री ऑफिस से जारी एक प्रेस रिलीज के मुताबिक श्रीलंका के राष्ट्रपति, महामहिम रानिल विक्रमसिंघे; मालदीव के राष्ट्रपति, महामहिम डॉ। मोहम्मद मुइज्जु; सेशेल्स के उपराष्ट्रपति, महामहिम अहमद अफिफ; बांग्लादेश की प्रधानमंत्री, महामहिम शेख हसीना; मॉरीशस के प्रधानमंत्री, महामहिम प्रविंद कुमार जगन्नाथ; नेपाल के प्रधानमंत्री, महामहिम पुष्प कमल दहल ‘प्रचंड’; और भूटान के प्रधानमंत्री, महामहिम शेरिंग तोबगे ने इसमें शामिल होने का निमंत्रण स्वीकार कर लिया है।

एक खास नीति के तहत दिया गया निमंत्रण
ऐसा माना जा रहा है कि मोदी के शपथ ग्रहण समारोह के लिए विदेशी नेताओं की अतिथि सूची नई दिल्ली की ‘पड़ोसी प्रथम’ की नीति और हिंद महासागर क्षेत्र में महत्वपूर्ण माने जाने वाले द्वीप देशों पर उसके रणनीतिक रूप से ध्यान केंद्रित करने को ध्यान में रखकर तैयार की गई है।

राष्ट्रपति मुइज्जू का शामिल होने अहम
मालदीव के राष्ट्रपति मोहम्मद मुइज्जू को दिया गया निमंत्रण इसलिए महत्वपूर्ण है, क्योंकि यह दोनों देशों के बीच तनावपूर्ण संबंधों के बीच आया है।

भारत और मालदीव के बीच संबंध पिछले वर्ष नवंबर से काफी तनावपूर्ण हो गए थे, जब चीन समर्थक रुख रखने वाले मुइज्जू ने मालदीव के राष्ट्रपति का पदभार संभाला था। शपथ लेने के कुछ ही घंटों के भीतर उन्होंने अपने देश से भारतीय सैन्यकर्मियों की वापसी की मांग की थी।

इसे भी पढ़े   सुषमा स्वराज्य को कहा जाता है 'सुपर मॉम ऑफ़ इंडिया,पुण्यतिथि पर जाने उनके बारे में

पहले दो शपथ ग्रहण समारोह में कौन-कौन शामिल हुआ था
क्षेत्रीय समूह दक्षेस (दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय सहयोग संगठन) देशों के नेताओं ने मोदी के पहले शपथ ग्रहण समारोह में भाग लिया था, जब उन्होंने आम चुनाव में भाजपा की भारी जीत के बाद प्रधानमंत्री के रूप में कार्यभार संभाला था।

वर्ष 2019 में मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में बिम्सटेक देशों के नेता शामिल हुए थे। तब वह लगातार दूसरी बार प्रधानमंत्री बने थे।

बता दें लोकसभा चुनाव 2024 में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) ने लोकसभा चुनाव में 293 सीट पर जीत दर्ज की है। बीजेपी 240 सीटें जीतकर सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी।


ख़बर को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *