ऑनलाइन हाजिरी का शिक्षकों ने किया बहिष्कार,आंदोलन की बनी रणनीति

ऑनलाइन हाजिरी का शिक्षकों ने किया बहिष्कार,आंदोलन की बनी रणनीति
ख़बर को शेयर करे

प्राथमिक शिक्षक संघ द्वारा 23 जुलाई को बीएसए कार्यालय पर होगा धरना प्रदर्शन
नई दिल्ली। प्रदेश सरकार द्वारा परिषदीय विद्यालयों में ऑनलाइन हाजिरी को लेकर शिक्षकों में आक्रोश जारी है। लार ब्लाक के शिक्षकों ने सरकार के इस फैसले का मुख्य विरोध किया और जनपद से किसी भी शिक्षक द्वारा ऑनलाइन हाजिरी दिये जाने की सूचना नहीं है। इस मामले को लेकर उत्तर प्रदेश में प्राथमिक शिक्षक संघ की बैठक प्रदेश नेतृत्व के आवाहन पर ब्लॉक अध्यक्ष डॉ गोविंद मिश्रा के नेतृत्व में हुई. बैठक में शिक्षकों के ऑनलाइन उपस्थिति पर असहमति और शिक्षकों को 31 दिन ईएल, 15 दिन सी.एल., 15 दिन का हाफ सी.एल., चिकित्सा प्रतिपूर्ति व पुरानी पेंशन बहाली आदि का मुद्दा छाया रहा.प्राथमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष डॉ गोविंद मिश्रा ने बताया कि प्रदेश के 6 लाख शिक्षकों ने सरकार के द्वारा जारी ऑनलाइन उपस्थिति का पूर्णतः बहिष्कार किया है और मांग किया कि अन्य विभागों की भांति शिक्षकों को भी सुविधाएं दी जाय। जब तक मांगों को पूरा नहीं किया जायेगा। शिक्षक ऑनलाइन उपस्थिति का बहिष्कार करेंगे। ब्लॉक मंत्री राजकपूर ने बैठक में कहा कि प्रदेश नेतृत्व के निर्देश पर 9 जुलाई को सभी ब्लाकों पर ब्लाक कार्यकारिणी की बैठक होगी,11 व 12 जुलाई को सभी ब्लाकों पर धरना प्रदर्शन होगा और 15 जुलाई को जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को पदाधिकारी व शिक्षक ज्ञापन देंगे।15 जुलाई से 22 जुलाई तक पदाधिकारी विद्यालयों का भ्रमण कर शिक्षकों से उनके ऑनलाइन बहिष्कार पर सहमति व असहमति का प्रपत्र भरवाएंगे। 23 जुलाई को बीएसए कार्यालय पर एक दिवसीय विशाल धरना,प्रदर्शन किया जाएगा. बैठक में कुलदीप सिंह, प्रियांशु तिवारी, गणेश पाण्डेय, अरुण कुमार तिवारी, धर्मेंद्र सिंह, ममता गोंड, वृजबिहारी, अजय यादव, विनोद कुमार, सूर्य प्रकाश अफरोज फातिमा, मुशरत नगमा, अभय मिश्रा आदि शिक्षक शिक्षिकाए मौजूद रहे।

इसे भी पढ़े   नोरा फतेही पहुंची EOW के ऑफिस; 2020 चेन्नई इवेंट पर एजेंसी का फोकस:सूत्र

ख़बर को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *