6 महीने में 60% चढ़ा टाटा ग्रुप का यह शेयर,एक्‍सपर्ट बोले-अब ग‍िरेगा

6 महीने में 60% चढ़ा टाटा ग्रुप का यह शेयर,एक्‍सपर्ट बोले-अब ग‍िरेगा
ख़बर को शेयर करे

नई दिल्ली। टाटा ग्रुप की कंपनी वोल्‍टॉस ल‍िम‍िटेड की तरफ से मार्च 2024 में जारी व‍ित्‍तीय नतीजों में ग‍िरावट आई है। इसके बाद ब्रोकरेज फर्मों की तरफ से कंपनी के शेयर के लि‍ए मिलीजुली प्रत‍िक्र‍िया दी गई है। कुछ ब्रोकरेज फर्म का कहना है क‍ि कंपनी कुछ मानक पर अनुमान से चूक गई, इसके बाद शेयर में 30 प्रतिशत तक की गिरावट आ सकती है। हालांकि, स्‍टॉक को लेकर पॉज‍िट‍िव रहने वाले लोगों ने 15 प्रतिशत तक की बढ़त की उम्मीद भी जताई है। हफ्ते के आख‍िरी कारोबारी द‍िन शुक्रवार को वोल्‍टॉस के शेयर में मामूली तेजी देखी गई। लेक‍िन गुरुवार और बुधवार के कारोबारी सत्र में शेयर गिरकर 1276 रुपये तक चला गया था।

कंपनी का खर्च बढ़ने से प्रॉफ‍िट में आई ग‍िरावट
टाटा ग्रुप के इस शेयर में प‍िछले छह महीने में ही 60 प्रतिशत से ज्‍यादा की तेजी आई है। जुलाई 2023 में शेयर का 52 हफ्ते का लो लेवल 745 रुपये था। उस रेट से यह करीब 78 प्रतिशत ऊपर चल रहा है। प‍िछले द‍िनों जारी क‍िये गए मार्च 2024 के नतीजों में कंपनी को ग‍िरावट का सामना करना पड़ा। कंपनी का नेट प्रॉफ‍िट वित्त वर्ष 2023 की समान तिमाही के मुकाबले 22।75 प्रतिशत घटकर 110।64 करोड़ रुपये रह गया। प्रॉफ‍िट में गिरावट का कारण कंपनी का बढ़ा हुआ खर्च बताया जा रहा है। व‍ित्‍त वर्ष 2023 की समान त‍िमाही में कंपनी का मुनाफा 143।23 करोड़ रुपये था।

समीक्षाधीन तिमाही के दौरान वोल्‍टॉस की कुल परिचालन आमदनी पिछले साल की समान अवधि के 2,956।8 करोड़ रुपये के मुकाबले 4,202।88 करोड़ रुपये रही। लेक‍िन मुनाफे में गिरावट आई है। कंपनी का यूनिटरी कूलिंग प्रोडक्ट्स (UPC) सेक्टर का कारोबार पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले 44% बढ़कर 2955 करोड़ रुपये हो गया। इसके अलावा वोल्‍टॉस के इलेक्ट्रो- मेकेन‍िकल प्रोजेक्ट्स और सर्विसेज (EMP) में 38% की बढ़ोतरी हुई है। वोल्‍टॉस की चौथी तिमाही की आमदनी में कुल बिक्री (टॉप लाइन) मजबूत रही। लेकिन मुनाफे में गिरावट आई।

इसे भी पढ़े   जहरीला कफ सिरप से हुई मौतों को लेकर WHO ने दिखाई सख्ती, निर्माताओं से मांगी जानकारी

जेएम फाइनेंश‍ियल ने दी बॉय रेट‍िंग
ब्रोकरेज फर्म का मानना है कि वित्तीय वर्ष 2026 में कंपनी के मुनाफे में 5% की बढ़ोतरी आ सकती है। इसको ध्यान में रखते हुए ब्रोकरेज फर्म ने वोल्‍टॉस के शेयर का टारगेट प्राइस 1,539 रुपये कर द‍िया है। यह प्राइस वित्त वर्ष 2026 के अनुमानित प्रति शेयर आय (EPS) का 48 गुना है। कुछ ब्रोकरेज फर्म की तरफ से इस शेयर को खरीदने की सलाह दी गई है। जेएम फाइनेंशियल ने वोल्‍टॉस के प्रदर्शन पर मिली-जुली राय दी है। फर्म ने कहा क‍ि कंपनी के ल‍िए अंतरराष्ट्रीय कारोबार में अभी चुनौतियां हैं। जेएम फाइनेंश‍ियल ने शेयर को बॉय रेट‍िंग दी है और इसका टारगेट प्राइस 1,515 रुपये रखा है।

कोटक इंस्टीट्यूशनल ने सेल रेट‍िंग दी
निर्मल बांग इंस्टीट्यूशनल इक्‍व‍िटीज ब्रोकरेज फर्म ने कहा कि वोल्‍टॉस के यूनिटरी कूलिंग प्रोडक्ट्स (UCP) से होने वाले मुनाफे में अनुमान से कम बढ़ोतरी हुई है। निर्मल बांग की तरफ से शेयर को एक्‍युम‍िलेट रेटिंग दी गई है। फर्म ने शेयर प्राइस को घटाकर 1,265 रुपये कर दिया है। ब्रोकरेज फर्म का मानना है कि कंपनी को गहरी छूट देकर बिक्री बढ़ाने की रणनीति और अंतरराष्ट्रीय परियोजनाओं के ऑर्डर बुक में आ रही दिक्कत के कारण भविष्य में मुनाफे की कमी का सामना करना पड़ सकता है। कोटक इंस्टीट्यूशनल इक्‍व‍िटीज ने शेयर को सेल (sell) की रेट‍िंग दी है और इसका टारगेट 930 रुपये रखा है।


ख़बर को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *