एक बिल्ली से जापान में दहशत,पड़ गए जान के लाले;शहर में हाई अलर्ट

एक बिल्ली से जापान में दहशत,पड़ गए जान के लाले;शहर में हाई अलर्ट
ख़बर को शेयर करे

जापान। जापान में एक बिल्ली की वजह से पूरे देश में दहशत फैल गई है। ये मामला इतना गंभीर है कि लोगों की जान पर बन आई है। शहर में दहशत के माहौल के बीच सरकार ने फुकुयामा शहर को हाई अलर्ट पर कर दिया है। इमरजेंसी नंबर जारी किए गए हैं। यहां एडवांस मशीनों के साथ लापता बिल्ली की तलाश हो रही है। हिरोशिमा के फुकुयामा में जिस बिल्ली को ढूंढा जा रहा है वो एक केमिकल फैक्ट्री में जहरीले हेक्सावलेंट क्रोमियम से भरे टैंक में गिर गई थी। जिसके बाद न सिर्फ फैक्ट्री में काम करने वाले मजदूर और सिक्योरिटी गार्ड बल्कि अब तो पूरा शहर उस बिल्ली का पता ढूंढ रहा है।

शहर में दहशत का माहौल
‘इंडिपेंडेट’ की रिपोर्ट के मुताबिक बिल्ली का सुराग अब तक नहीं मिल सका है। पुलिस मामले पर नजर बनाए हुए है। केमिकल प्लांट के CCTV फुटेज में बिल्ली फर्श पर पीले-भूरे पंजे के निशान छोड़ते हुए भागती दिख रही है। कुछ मिनट बाद वो लापता हो जाती है। सब हैरान हैं कि उसे आसमान निगल गया या वो धरती में समा गई। कुछ पता नहीं चल पा रहा है।

शहर का प्रशासनिक अमला ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीकों से अलर्ट भेज रहा है। बाहर से आए जानवरों को अपने पेट्स से दूर रखने की सलाह दी गई है। लोगों से कहा गया है कि वो ऐसी किसी भी बिल्ली पर नजर रखें जो अजीब व्यवहार कर रही हो। ऐसे जानवरों से दूर रहें क्योंकि हानिकारक टैंक में डूबने के बाद उसके शरीर पर कैंसरकारी रसायन हो सकते हैं। प्रशासन कह रहा है कि अगर आपको कोई संदिग्ध बिल्ली दिखे तो फौरन प्रशासन को सूचित करें।

इसे भी पढ़े   दांतों में क्यों होती है झनझनाहट?4 बड़े कारण

शरीर में हो सकती हैं ये परेशानियां
वैट में मौजूद केमिकल हेक्सावलेंट क्रोमियम, के सीधे संपर्क में आने पर त्वचा में जलन, सांस लेने में दिक्कत और आंखों की रोशनी जाने का खतरा है। कंपनी ने कहा कि जब तक बिल्ली नहीं मिल जाती और ये नहीं पता चल जाता कि वो कहां-कहां से गुजरी तब तक वहां काम कर रहे कर्मचारियों को मास्क और रबर के दस्ताने पहनकर काम करना होगा।

कंपनी का बयान
इस पूरे घटनाक्रम को लेकर केमिकल कंपनी के प्रवक्ता ने कहा, ‘ये ऐक ऐसा खतरा है, जिसके बारे में हमने कभी सोचा नहीं था। इस घटना ने हमें बिल्लियों जैसे छोटे जानवरों को अपने परिसर में दाखिल होने से रोकने के लिए और उपाय करने की जरूरत के बारे में जागरूक किया है, क्योंकि हमने पहले कभी ऐसा होने के बारे में सोचा ही नहीं था। हालांकि इस बात की आशंका भी जताई जा रही है कि शायद केमिकल के असर की वजह से बिल्ली ने दम तोड़ दिया हो।


ख़बर को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *